बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ

छवि स्रोत,भाभी इमेज

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चुदाई रानी: बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ, झाड़ू लगाते लगाते जब वो सोफे के पास आईं तो मुझे उनकी ब्लाउज से उनके प्यारे सेक्सी दूध साफ़ दिख रहे थे और ललचा रहे थे.

ब्लू फिल्म नई वीडियो

वैसे सऊदी में पोर्न साइट्स बैन है तो वो ऑनलाइन कुछ नहीं देख सकती है. एक्स वीडियो बीएफ दिखाइएमुझे अपनी ओर खींचते हुए कल्पना ने कहा- मुझे भी अपनी चूत को भोसड़ा बनवाना है, पर आज नहीं, आज के लिए मेरी बुर चूत बन गयी, वही काफी है.

वे आदत के मुताबिक न न करने लगे, पर मैंने अपनी चड्डी नीचे खिसका दी व उन्हें चूतड़ दिखाए, तो उनका खड़ा हो गया. पड़ोसन के साथमैंने उसके चूचों के निप्पलों को अपने दांतों में पकड़ कर काट लिया और उसकी जोर से एक कामुक सिसकारी निकल गई- उई मां … आह्ह् … मर गई.

फिर वो मेरी तरफ आंख मारते हुए बोली कि उसने मेरे और उसके बीच हुए सेक्स की सारी बातें रश्मि को बता रखी है पहले से ही.बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ: उसने मेरे सर को झुका कर अपने लंड में लगाने की कोशिश की मगर मैं हट गई.

मैं बेड पर लेटा हुआ था लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी और सोचने लगा कि कैसे शुरुआत की जाए.मादक सीत्कारें भरते हुए अपने दांतों को भींच कर और चूतड़ों को उचकाते हुए वो झड़ने लगी.

ஆன்ட்டி படங்கள் - बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ

तो मैंने बोला- भाभी, जल्दी से झोटे का डंडा पकड़ कर लाइन में लगा दो.मीनाक्षी की पर्सनैलिटी को देख कर उसकी नौकरी सीबीआई में लग गई थी लेकिन उसके पति ने शादी के बाद उसकी नौकरी छुड़वा दी थी.

एक डेढ़ इंच तक तो उंगली आराम से चला गई, पर जब थोड़ा और जोर लगाया, तो उनकी चीख निकल गयी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’उन्होंने मेरे बालों को पकड़ के मेरा मुँह अपनी चूत से हटा दिया- दर्द हो रहा है. बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ शीतल भाभी ने अन्दर ब्लैक कलर की ब्रा और पैंटी पहनी थी, जो उनके गोरे बदन पर कयामत ढा रही थी.

इसीलिए मैंने नीरजा की चूत का भोसड़ा बनाने की नियत से एक बार में ही पूरा लौड़ा पेल दिया था.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ?

खैर … अब आशीष सीधे सीधे बोला कि बंध्या मुझे सच सच बता दो कि तुम्हारी सील कब और किसने तोड़ी? तुमने किससे फर्स्ट टाइम चुदवाया है … कौन है वह लकी मर्द? सच सच बता दोगी तो मुझे बुरा नहीं लगेगा, मैं वादा करता हूं कि तुम्हें कुछ नहीं बोलूंगा और हमेशा बहुत प्यार करूंगा. 10 मिनट तक ऐसे से चोदने के बाद वो उठा और मुझे खींच के बिस्तर के बाहर ले गया मेरे होंठों को चूमते हुए उसने मेरे दोनों हाथ अपने गले में फंसा लिए और झटके से मेरे दोनों पैरो को पकड़ के उठा के अपनी कमर में फंसा लिए और लंड चुत में टिका कर एक बार में पूरा लंड अंदर पेल दिया. मम्मा ने थोड़ी देर बाद थोड़ी हरकत की और थोड़ा सा आगे खिसक कर लेट गईं लेकिन वो मुझसे कुछ नहीं बोलीं.

जैसा आप लोग जानते कि इंग्लिश मीडियम स्कूलों में बच्चों से ज्यादा टीचर बदल जाते हैं. हम लोग सो चुके थे, तभी अचानक बाहर से कुछ अजीब सी आवाज सुनाई पड़ी तो हम लोग आवाज सुन कर बाहर आ गए. सोनू नीचे जमीन पर बैठ गई और अपने दोनों हाथों को उसने मेरे पटों पर रखा और मेरे लंड को चूसने लगी.

इस कहानी में मैं अपनी सहेली से दोस्ती की और हम दोनों में इतनी अधिक दोस्ती हो गयी कि मैं अपनी सहेली के भाई से चुद गयी. तीन डिशेस थीं, जिसमें वेफर, काजू, चिकन लॉलीपॉप थे और एक आइस बकेट थी. कुछ ही देर में मैंने रानी का चूत प्रदेश, झांटें इत्यादि सब साफ कर दी थी.

मैं बोला- जब मैं बुर चाट रहा था तो तुम्हें कैसा लग रहा था?वो बोली- आज से पहले इतना मज़ा कभी नहीं आया, न ही कभी इतना पानी निकला. मैंने सॉरी बोला तो वो बोलीं- कोई बात नहीं … इसका टेस्ट भी अच्छा है.

ये कुछ ज्यादा ही हो रहा था- सर, आप यह क्या कर रहे हो?निकाली नहीं अभी तक?” उन्होंने शांति से पूछा.

इसी दौरान मैं किसी काम से किचन में गया, तो देखा वो अकेली कुछ काम कर रही है.

मुझे तुम्हारी तरह स्मार्ट और हैंडसम बच्चा चाहिए, क्या तुम मुझे दोगे हर्षद?उधर नीचे मेरा तना हुआ लंड सरिता की चूत पर रगड़ खा रहा था जिससे सरिता कसमसा रही थी. उनके दो बच्चे हैं जो कि ग्रेजुएशन करने के बाद बंगलौर और चेन्नई में एमबीए कर रहे हैं. वो मुझे वाशरूम तक ले गए और वाशरूम के दरवाजे पर खड़े होकर अपना हाथ आगे किया और बोले.

मुझे उस पर तरस आ गया और एक दिन मैंने प्रेक्टिकल में पूछ लिया- तुम हमेशा उदास क्यों रहते हो?उसने ‘नथिंग’ कह के बात उड़ा दी. परन्तु मैं वर्जिन साली की बुर फ़ाड़ूँ … तो कैसे?तभी मेरी पत्नी ने अपनी छोटी बहन से कहा- ऋतु, हाथ पांव धो लो. जीजू ने मुझे अपनी दोनों बांहों में कस लिया और मुझे किस करने लगे, मेरे दोनों बूब्स जीजू की छाती से चिपक गए एकदम से और धीरे धीरे मेरे दोनों हाथ भी जीजू से लिपट गए, अब हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे.

मगर विपिन जी का लंड तो मेरी उम्मीद से कहीं ज्यादा दमदार भयंकर साबित हो रहा था.

वो बोला- बंध्या, तुम परियों से भी सुंदर हो और आज तो बता नहीं सकता कि कैसी लग रही हो. मैंने उसकी जांघों पर किस करना शुरू कर दिया और वह भी मेरे हर चुम्बन का मजा ले रही थी. दोस्तो, यहां मैं आप लोगों को बताना चाहूंगा कि ये सब उनके साथ पहली बार हो रहा था, इससे पहले किसी भी दूसरे इंसान ने उनकी चूत को छुआ तक नहीं था, सिवाय उनके खुद के.

लेकिन सुषी काफी सेंसेटिव थी और मेरे हर किस पर उसके बदन में एक सिरहन सी पैदा हो रही थी. हम दोनों ने अच्छी तरह से दस मिनट तक मस्त चुदाई की और दोनों साथ में झड़ गए. अंदर जाकर वो पूछने लगी कि क्या इंपोर्टेंट बात है?मैंने हिम्मत जुटा कर सीधे ही उससे पूछ लिया कि तुम अपने बाथरूम में रात को क्या करती हो लाइट जला कर?यह बात सुन कर वो एकदम से शॉक हो गई.

शायद वो सो गई थी इसलिए मैंने थोड़ी और हिम्मत की और हाथ उसके शर्ट के अन्दर डाल दिया.

जो भैया थे वो पुलिस में एएसआई थे, उनकी उम्र लगभग 40 साल और भाभी की उम्र 35 साल थी. इतनी बात हम दोनों के बीच हो पायी थी कि तभी दो-चार बच्चे कुछ सवाल लेकर नम्रता के पास आ गए.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ अब मेरा अगला स्टेप था इन अंकल जी को सेड्यूस करने का मतलब उन्हें लुभाने का ललचाने का और उन्हें मुझ पर आशिक करवाने का था. मैंने उसे पूछना सही समझा- अमीषी तुम्हारी कोई बात … जो नहीं करनी हो?वो बोली- आज आप हर तरह से फ्री हो बाबू.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ अपने बांये हाथ में मेरा लंड पकड़कर गांड के छेद पर सैट किया, फिर लंड को अपनी गांड में लेते हुए उस पर बैठ गई. फिर मैंने पाण्डे जी से बोला कि उससे किसी तरह से सेटिंग कराओ क्योंकि वो मुझे बहुत अच्छी लगती है.

मैं ऐसे ही एक हाथ से पीठ और दूसरे हाथ से उसकी गांड सहलाता रहा और उसे शांत होने दिया.

मियां बीएफ

आप अपने सुझाव व जवाब मुझे मेल या फेसबुक पर इसी आईडी पर दे सकते हैं. चाचा भी कुछ कम नहीं थे, परिवार में शायद ही कोई बचा हो जिसे उन्होंने नहीं चोदा हो. जैसे ही उन्होंने पानी खत्म किया, मैं उन्हें जाने का बोल कर बाहर के कमरे की तरफ जाने लगा.

वहीं रितेश डॉक्टर होने की वजह से हेल्थ के बारे में ज़्यादा ध्यान रखता था और रोज छत पर योगा करता था. हम दोनों ने सामने दीपाली का पेपर खोल कर रख लिया और जो क्वेस्चन हम दोनों के बाकी थे, उतारने लगे. जब मैं शाम को छह बजे वहाँ गया और मैंने जाकर वहाँ देखा तो वो पहले से ही मौजूद थी.

इसी तरह सरिता की पीठ, कमर और गांड को सहलाता रहा, तो सरिता मदहोश होती जा रही थी.

फिर करीब और 10 मिनट की चुदाई के बाद रितेश और मीरा एक साथ ही झड़ गए. मगर मैंने तो अपने पर काबू रखना ही सही समझा, पर इस भोसड़ी वाले लंड को को कौन समझाए … उसने तो फिर से खड़ा होना चालू कर दिया था. माँ बेटी दोनों नंगी नंगी जब एक ही लण्ड मिलकर चाटती हैं तो उसका मज़ा कुछ और ही होता है।अम्मी बड़े सेक्सी मूड में थीं तो बोली- बुर चोदी रेहाना, तेरी माँ का भोसड़ा … आज मुझे तेरे साथ लण्ड चाटने में बड़ा मज़ा आ रहा है। मुझे लगता है कि मेरी जवानी लौट आयी है।मैंने कहा- हाय मेरी हरामजादी रुखसार … तू तो अभी मुझसे ज्यादा जवान है.

फिर मैंने लंड को चूत से बाहर निकालकर चाची के मुँह में डाल दिया और अब वो मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. वसुन्धरा की योनि से निकलते काम-ऱज़ और मेरे लिंग से निकले प्री-कम के कारण मेरे लिंग का उसकी योनि में आवागमन थोड़ा आसान हो गया था. मैं उन दोनों के लंड को मजा दे रही थी तभी पीछे से मेरे पति रोहन भी आ गये.

मेरा लंड फड़फड़ाने लगा तो उसने एक हाथ से लंड पकड़ा और दूसरे हाथ से वो बार बार दवाई डालकर मुझे मजा देने लगी. बस फिर क्या था … आते ही मेरी चूत पर भूखे कुत्ते की तरह टूट पड़ा और चुदाई शुरू कर दी.

मगर एक बात मैं बोलना चाहता हूँ कि लड़कियों को संतुष्ट करना इतना आसान काम नहीं है. अचानक ही वसुन्धरा ने मेरी तरफ करवट ली और अपनी दायीं टांग उठा कर मेरे जिस्म पर रखकर अपने पाँव को मेरे नितम्बों के पीछे लगा कर मेरे जिस्म के निचले भाग को अपने जिस्म के के निचले भाग के साथ रगड़ने का प्रयास करने लगी. जैसे ही ऊपर खिसकी, तो वो मेरे पेट के पास बैठकर मेरे जींस के बटन खोलने लगा.

वहां सूट कटिंग सीखी, फिर अपने कस्बे में तो केवल सूट से काम नहीं चलता, तो लेडीज के ब्लाउज, फ्रॉक, सलवार, कुर्ते, पैंट शर्ट, सब काम आता है.

मेरे ऐसा करने से वो जोर-जोर से आहें भरने लगी और सिसकारियां भरने लगी. उधर मेरी सहेली अपने ब्वॉयफ्रेंड से होटल में चुदवा रही थी और इधर मैं अपनी सहेली के भाई से चुदवा रही थी. भैया स्लैब पर भाभी की चूत चाटने में लगे हुए थे और मैं अपनी चूत को शांत करने की नाकाम कोशिश कर रही थी.

कोरोना काल में अब लोग स्पा-सेंटर पर आने से घबरा भी रहे थे, तो काम नाममात्र ही आता था. उसने इधर-उधर देखा, फिर मेरी तरफ देखकर बोली- बस इसी तरह का मजा, जहां पर उत्तेजना भी हो और डर भी हो, ऐसा ही मजा चाहती हूं.

एक नारी लगभग अपनी आधी जिंदगी गुजरने के बाद आज पहली बार अपने नारीत्व को प्राप्त हुई थी. कुछ देर में सोनू कहने लगी कि बेड पर ही अच्छा लगता है, वैसे ही करो, जैसे पहले किया था. मैंने कहा- तो गेट बंद कर दूं?उसने कहा- अब तक तो तुम्हें बंद कर देना चाहिए था.

बीएफ एचडी फुल हिंदी में

मैंने कामाग्नि से जलते-धधकते हुए अपने साढ़े छह सात इंच के काम-ध्वज को वसुन्धरा की काम-रस से भीगी योनि से बाहर खींचा और वापिस बिजली की गति से वसुन्धरा की योनि के हाइमन को चीरते हुए वसुन्धरा की योनि में जड़ तक गाड़ दिया.

मैंने रोहित को कुछ नहीं कहा और न ही उसे यह पता लगने दिया कि मैं जाग रही हूँ. मतलब एक ही लंड से उसके पति की गांड मारी जाए और उसकी चूत भी चोदी जाए. इसके बाद राधिका मेरे लंड पर किस करने लगी, साथ ही उसने मेरे लंड के सुपारे पर अपनी जीभ फिराई और लंड के स्वाद का चटखारा लेकर वापस बैठ गई.

दोस्तो, मेरा नाम सोनू है, उम्र 24 साल, हाइट 5 फुट 8 इंच, दिखने में एवरेज हूँ. आप तो जानती हो कि मेरा काम ही है अपने पार्टनर को अच्छे से खुश करना. हिंदी इंग्लिश बीएफ वीडियोवह भी कहने लगी कि वह शुभी को चुदवाने के लिए ले आएगी मगर उसके बाद मैं उससे कभी नाराजगी से बात नहीं करूंगा.

एक दिन मैंने फिर आगे बढ़ने को सोचा और उसे बोला- चल सरिता आज फिर कुछ नया करते हैं. तो प्लीज़ अपने कॉमेंट्स और सुझाव मुझे ज़रूर लिखिएगा,मेरी उम्र 24 साल है, अफ्रीका में जॉब करता हूँ और आपकी दुआ से वेलसैट्ल हूँ.

मैंने भी मम्मा की टोन में पूछा- तो बताओ कैसे होती है शादी?अपनी मम्मा सौम्या ने कहा- पहले मेरी मांग में सिंदूर भर … फिर मुझे मंगलसूत्र पहना … फिर उसके बाद सुहागरात. उसने ये भी कहा कि मेरे घर के लोग भी कल शाम को बाहर जाने वाले हैं तो मैं आ जाऊंगी. मैं आगे की तरफ आकर धर्मशाला की तरफ ये सोचते-सोचते बढ़ गया कि चलो चाची का काम आज रात को ही कर देते हैं.

वसुंधरा के पैरों के तलवे गहरे गुलाबी रंग के, गद्दीदार और वलय वाले थे और पैरों की सारी उंगलियां रोमरहित एवं समानुपात में थी. मेरे लण्ड पे नील और गहरे हो गए और लण्ड दुखने लगा परन्तु झड़ने के बाद भी बैठा नहीं. राशि ये खेल कभी-कभी तो डेढ़ घंटे तक करती थी और आज तो वो पूरी उफान पर थी, इसलिए मैं भी उसके बाल पकड़ कर उसका सर हिला-हिला कर उसका साथ दे रहा था.

‘हमने तुम्हें खुशबूदार निशानी दी, अब तुम हमें निशानी दोगी, हमारे लौड़ों पे अपनी लिपस्टिक का निशान.

आह … क्या माल है तू भी लौंडिया! चूतड़ तो देखो! कितने मस्त और टाइट हैं. मैंने शरमाते हुए उसे डार्क ब्लू और ब्लैक कलर के लिए बोला, तो उसने वही ले ली साथ में मैचिंग पैंटी भी खरीद ली.

इससे पहले मैंने कभी नहीं पी थी मगर उनकी ज़िद के आगे में झुक गया और मैंने थोड़ी सी पी ली. फिर जब डॉक्टर ने उसकी जांच करने को कहा, तो रिया ने मुझसे कहा- तुम साथ आ जाओ. तब मुझे इस बात का अहसास भी नहीं था कि मम्मा के मन में क्या चल रहा होगा.

मेरा लंड उनके मुँह में सही से नहीं जा रहा था, वो जबरदस्ती लंड ले रही थीं. मैंने मन ही मन कहा कि पापा मैं तो कली से फूल पहले ही बन चुकी हूँ मगर आपको नहीं पता है इस बारे में. मैंने उसे ज़ोर ज़ोर से चोदना चालू किया और मैं उसकी चुत में झड़ गया.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ मैंने उससे कहा- आज रात को सभी के सो जाने के बाद गेट खोल देना, मैं आऊंगा या जब तुम ठीक समझो … मुझे फोन करके बुला लेना. एक लम्बी और गहरी किस करने के बाद बोला- तुम बहुत सुन्दर हो और प्यारी भी हो.

बीएफ सेक्सी कुत्ते की चुदाई

जाहिर सी बात है कि प्रीति अनगिनत लंड अपनी चूत में ले चुकी थी।पर फिर भी प्रीति ने अपने को मेंटेन कर रखा था।उसकी चूत पूरी मखमली थी और मम्मों का कसाव बरकरार था।प्रीति के पैर के नाखून भी कुछ लंबे और अच्छे से तराशे हुए थे।उसके जिस्म पर बाल का एक रोयाँ नहीं था और त्वचा बिल्कुल चिकनी रेशम जैसी थी. भाभी हो हो करके हंसने लगीं और बोलीं- क्या तुम्हें सूद चुकाने में कोई दिक्कत है. आह्ह् … स्स्स … उईई … आहा … अम्म … बस … ओह … करती हुई वह मेरे बालों को नोंचने लगी.

मैं उन्हें ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा और वो सीत्कार करने लगीं. मैंने उसकी किताब उठाई और पूछा- बोलो क्या काम है?वो मेरे बगल में आ कर बैठ गई. ಕನ್ನಡ ಬ್ಲೂ ಫಿಲ್ಮ್ downloadजब वो चल कर जा रही थीं, तो उनकी गांड एकदम ऐसे मटक रही थी, जैसे दो बॉल आपस में हिल रही हों.

उनके जीभ के स्पर्श से अलग ही सरसराहट पैदा हुई, उन्होंने मेरी नाजुक त्वचा पर हल्के से काटना भी शुरू कर दिया.

फिर मैं अपना लंड पूजा की गांड में जोर जोर से अन्दर बाहर करके गांड चोदने लगा. वो मुझे घोड़ी बनाकर मेरी चूत में अपना लंड डाल कर मेरी चूत को चोद रहा था.

मगर मिनी ने गाउन नहीं उतारा; वो गाउन पहनी हुई ही मेरे बगल में लेट गई. मैंने उसका मन टटोलने के लिये लंड के ऊपर के उभार के ऊपर हाथ फेरना शुरू कर दिया. तब वो बोला कि साली उस नीच का लंड तू और तेरी सहेली खूब लेती है, चूसती और चाटती ही होगी … तो क्या उसके लंड में शहद लगा है … और मेरे में कांटे लगे हैं.

वो एक भूखी बिल्ली की तरह अमर के होंठों को ऐसे चूमने चूसने लगी जैसे दूध पीने के लिए बिल्ली मलाई चाटती है.

लेकिन मैंने उसकी चीखों पर कोई ध्यान नहीं दिया, बस उसके दूध मसलता रहा. तब उसने कहा कि उसका शौहर इज़्ज़त जाने के डर से किसी के सामने इस बात को खुलासा नहीं करना चाहता. अब सुखबीर हाँफने लगा था और उसने रुक रुक के धक्के देने शुरू कर दिए थे.

हिंदी बीएफ भेजो हिंदी बीएफआह … क्या एहसास था! उसका थूक और लार भी उस समय मुझे मीठा लग रहा था।एक बार फिर से मैं उसके नंगें शरीर के ऊपर आया और उसको गली देते हुए और उसकी गाली सुनते हुए मैं उसे चोदने लगा. सीधा होते ही अमर फिर से भाभी के ऊपर आ गया और फिर से एक ही झटके में पूरा लंड चुत के अन्दर कर दिया.

बीएफ ब्लू फिल्मी

उन्होंने भी अपना सर बेड से लगा कर और अपने घुटनों के सहारे अपने कूल्हे ऊपर कर दिया. मेरा हर ब्लाउज डीप गले का ही होता है, इस वजह से स्तनों के बीच की घाटी साफ साफ दिख रही थी. बस में पूरी रात हम दोनों जागते रहे पर मजे तो कम ही किए!सुबह 5:00 बजे बस ने उसके गांव के नजदीक शहर में उतार दिया.

हम दोनों ने सामने दीपाली का पेपर खोल कर रख लिया और जो क्वेस्चन हम दोनों के बाकी थे, उतारने लगे. पंजाबी चूत की कहानी में पढ़ें कि मैं अपने गाँव की एक कुंवारी लड़की को चोद चुका था. मैं ऐसे ही बिना कुछ करे कुछ पल के लिए रुक गया ताकि निशा शांत हो जाए.

उन दस दिनों में ऐसी कोई रात नहीं थी, जब मैंने और माया ने चुदाई ना की हो. 30 बजे वो मेरे रूम में आई थी और उसने अपना लहंगा अभी भी नहीं चेंज किया था. इसलिए मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को पर लगा दिए और चूसने लगा ताकि इसकी आवाज बाहर न निकले.

दिशा- बड़े आराम से सम्भल जाएगा जीजू … आज हम तीनों इसके लिए भारी पड़ने वाली हैं. तब तक स्नेहा की मम्मी आ गईं और बोलीं- बेटा आज मैं मटन बना देती हूं, तुम सब लोग खा लेना.

मेरी बहन बेसुध सोई पड़ी थी और उसे मेरे हाथ से कुछ भी फर्क नहीं पड़ रहा था.

वो बोल पड़ी कि आह रितेश अब मेरे अन्दर आ जाओ, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है. बीएफ फिल्म इंग्लिश में हिंदी मेंतो उसने मना कर दिया कि हट पगली इससे कुछ नहीं होता, फालतू हमारी ही बदनामी होगी … सब लोग हम दोनों पर हंसेंगे और घर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाएगा. चूत लंड वीडियो सेक्सीतब मैंने अपने रूम का दरवाजा खोल कर कहा- कोई चेंज करने की ज़रूरत नहीं, सब कुछ उतार कर मेरे पास आ जाओ. वो जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी और आंखें बंद किए हुए बोल रही थी- आह … यश आराम से.

मुझमें समा जाओ!मीना के हाथ मेरे अंडरवियर के अंदर जाने में समय नहीं लगा और उसने मुझे नग्न करने के लिए मेरे अंडरवीयर को नीचे कर दिया.

मैं बस चादर पकड़े उन्हें देखता रहा और वो धीरे धीरे अपना लंड मेरी गांड में अन्दर डालते रहे. फिर शुरू हुई भाभी की देसी चुदाई!अब भाभी भी मेरा बराबर साथ दे रही थीं. नहीं तो मैं किस कैसे लूंगा, तुम्हें कोई एतराज तो नहीं है ना?”मैंने ना में सिर हिलाया.

अब मैंने उनकी गांड पर सुपारा रखा और धीरे से एक धक्का मारा, तो करीब 2 इंच मेरा लंड अन्दर गया. उनके मुँह से यह बात सुनकर मैं उनको लेकर बाहर कमरे में आ गया और उनको बेड पर ले आया. इस तरह से धीरे-धीरे करके मेरे लंड ने भाभी की चूत में अपनी जगह बना ली.

नोट हिंदी बीएफ

मेरे होंठ कल्पना भाभी के होंठों के साथ उलझे हुए थे और मेरा हाथ उनके चूचों पर था. मैंने भी ओंठ चूसने और अपनी चोदने की स्पीड को बढ़ा डाली और मेरे धक्के और भी तेज हो गए. जिसने भी इस असीम सुख के सागर में गोता लगाया है, सिर्फ वही इसका आनन्द जान सकता है.

अगले दिन मैं जानबूझ कर सुबह सवेरे अपने घर के आगे टहलने लगी, साढ़े पांच बजे वही अंकल जी फिर मेरे घर के सामने से निकले, वही छवि, हाथ में रूलर लिए हुए, मेरी ओर बिना देखे नीची नज़रें किये हुए फुर्ती से निकल गए.

उसने लाल रंग का सलवार सूट पहना था और सफेद रंग का दुपट्टा ले रखा था.

उनके बड़े बड़े छत्तीस इंच के मम्मे देख कर मेरा दिमाग खराब हो गया … लंड एकदम टाइट होकर अकड़ गया. आय हाय मेरी बन्नो, लगता है तुझे लण्ड की लत लग गयी है एक बार में ही. हिंदी में बीएफ भेजो वीडियो मेंभाभी इस दौरान अपने मुँह से ‘आहआह आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उफ्फ उफ उफ्फ जोर से.

सोनू ने लण्ड को अपने दोनों पटों के बीच भींच कर मेरे लंड को दबा लिया. जब कंडक्टर आया और उसने टिकट के लिए कहा, तो उसने मुँह फेर लिया और बाहर देखने लगी. लेकिन जब मैं सुबह जब उठा तो मैंने देखा कि मैं पैन्ट पहने हुए था और सब कुछ साफ था.

अंकल जी ने मेरी जितनी केयर की थी उससे उनके प्रति मेरे मन में सम्मान और शायद प्यार भी बढ़ गया था. मगर अचानक ही अंदर से फिर आवाज आनी शुरू हो गई और मेरा ध्यान फिर से उनकी चुदाई पर चला गया.

फिर मैंने वापस अपने रूम पर आकर छोटू उठाया और उससे कहा- भाई उठ जा और कुछ पढ़ ले.

आज जो मैंने उसके साथ किया है उसको याद करके वह भी बार-बार मुझसे बात करने की कोशिश करेगी. इसके बाद मैं बेमन से बिस्तर से उठी, जबकि मेरा अभी भी चुदवाने का बहुत मन कर रहा था. वह हटने लगी तो मैंने कहा- बस मैं ज्यादा कुछ नहीं करूंगा, सिर्फ ऊपर से ही चूत पर रगड़ दूंगा.

सैकस कैसे करे ये टॉवल उनकी चुचियों और चूत के थोड़ा नीचे तक ही था, जिस वजह से उनकी चिकनी और गोरी जांघें साफ दिख रही थीं. अपने सुझाव मुझे मेरी मेल आई डी[emailprotected]पर जरूर भेजें।बहुत जल्द ही मुलाक़ात होगी एक नई और वासना से भरूपर सच्ची कहानी के साथ.

शारदा चाची- सब जानती हूं मैं, चलो जाकर धर्मशाला में व्यवस्था देखो और अपने चाचा का हाथ बटाओ. जब वो चल कर जा रही थीं, तो उनकी गांड एकदम ऐसे मटक रही थी, जैसे दो बॉल आपस में हिल रही हों. खाना खाने के बाद वो बेड पर लेट गयी और उसने मुझसे भी बोला- आ जा इधर यहां आकर ही सो जा, बाहर बहुत गर्मी हो रही है.

बीएफ वीडियो वेस्टइंडीज

मैं अन्दर ही अन्दर बहुत खुश था कि आज मेरे सपनों की रानी मेरे साथ सोएगी. अब उन्होंने मुझे दूसरा कमरा बताया और कहा- आप उस कमरे में जाइए, वहां टेबल पर लैपटॉप पड़ा है. रिया के घर में कोई नहीं था तो वो मेरे घर चली आई और हम दोनों ने साथ में लंच किया.

वैसे कुछ लड़कियाँ तो खुद ही चुदवा लेती हैं मगर कुछ लड़कियाँ बाहर भले ही चुदवा लेती हों लेकिन घरवालों और रिश्तेदारों के सामने सती-सावित्री होने का नाटक करती रहती हैं. कहते हुए वह अपनी चूत के अंदर उंगली डाल कर मेरे माल को अपनी चूत से बाहर करने लगी.

मेरे ज़ोर देने पर वो मान गई और मैंने अपना पूरा लौड़ा उसके मुँह में दे दिया, वो उसे लॉलीपॉप की तरह चूस रही थी.

यदि कोई आ जाता, तो ना ही मुझे मज़ा आता और न ही उन्हें!वो समझ गए और मुझे नीचे बिठा कर अपने लंड मेरे मुँह में देकर चुसवाने लगे. वो अपना सर इधर उधर झटकने लगीं, साथ ही उनकी तेज सिसकारियां भी निकलने लगीं. करीब 9 बजे रात को मेरे घर के नंबर पर फोन बजा, घर के सारे फोन मैं ही उठाती थी क्योंकि मम्मी यह नहीं जान पाती थीं कि किसका फोन है.

अपने काम के सिलसिले में मैं चंडीगढ़, जालंधर, अमृतसर, हिसार, दिल्ली तक आता-जाता रहता हूं. उसके बाद मैंने उसके बालों को हटाया तो देखा कि उसकी कुर्ती के पीछे चेन लगी हुई थी. अब मैंने उसके होंठों पर अपने होंठ जमाए और हल्के हाथ से उसके चुचे को दबाना शुरू कर दिया.

उनके नर्म चूचों के स्पर्श से एकदम से मेरा लंड खड़ा हो गया, पर मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया और बेड तक आया.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ बीएफ: बहुत दिनों के बाद मेरी आग उगलती चूत को ऐसा ठंडे पानी का झरना मिलने वाला था मैंने तो अनुमान भी नहीं लगाया था इसका. मामी की चूत में जीभ तो डाल ही रहे थे और साथ ही अब उनकी गांड में अपनी उंगली भी करने लगे थे.

उसने कहा- तुम अपने दोस्त से मेरी बात कब करवा रहे हो?मैंने कह दिया- मेरा दोस्त अभी कहीं बाहर गया हुआ है. वैसे भी जब रात में कोई चालू लड़की साथ में सो रही हो तो मन में ऐसे ही ख्याल आने शुरू हो जाते हैं. वो चिल्लाने को हुई तो मैंने झट से उसको होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

हैदराबाद पहुंचने पर हमारा जोरदार स्वागत हुआ और सबने नयी नवेली दुल्हनों को ढेरों तोहफे दिए.

एक दिन भाभी को मार्केट से कुछ सामान लेना था तो उन्होंने मुझसे साथ चलने को बोला. मैंने दिशा से कहा- दिशा, तुम अपनी बहन के साथ मिलकर लेस्बियन किस करो. मैंने बाथरूम में रखी तेल की शीशी से भाभी की गांड में तेल भर दिया और उंगली की, तो भाभी को मजा आने लगा.