बीएफ साउथ अफ्रीका

छवि स्रोत,এক্স এক্স বাংলা মুভি

तस्वीर का शीर्षक ,

मक्खी पिक्चर: बीएफ साउथ अफ्रीका, उस समय तो बस खेल लग रहा था, पर एक दो साल बाद जब परिपक्वता आई, तो समझ में आया कि जो मीना कह रही थी, उसका मतलब वो पहली बार में कम से कम 5-6 बार झड़ चुकी थी.

इंडियन ब्लू सेक्सी पिक्चर

मेरा मन तो किया उसे खींच के गले से लगा लूं।लेकिन मैंने धैर्य से काम लेने का सोचा और सुमन से घर दिखाने को बोला।सुमन ने मुझे पूरा घर दिखाया. सेक्स ब्लू पिक्चर फिल्मभाभी जल्दी ही अकड़ गईं और उन्होंने मेरे मुँह पर अपनी चूत का रस छोड़ दिया.

मैं तेरे कमरे में गया भी था, लेकिन जैसे ही मैंने दरवाजा खटख़टाने को सोचा, तो देखा कि तेरे कमरे का दरवाजा खुला हुआ है. इंडियन नंगी वीडियोफिर हमने बेड पर जाकर चुदाई शुरू कर दी जो पूरी रात चलती रही और आज भी चल रही है.

मेरी चूत चाटने साथ साथ मनोज मेरी चुत के दाने को दांत से काट रहा था, उस समय मुझे हल्का सा दर्द भी होता था लेकिन मजे के कारण मैं कुछ नहीं कह रही थी.बीएफ साउथ अफ्रीका: मैंने कहा कि नहीं वो ठीक हो जाएगा क्योंकि रात को दुख गया था, इसलिए दर्द हो रहा है.

मैंने उसे समझाया- कुछ नहीं होगा तू पकड़ तो!दिव्या से मैंने लंड छूने को कहा.मैं अपनी दोनों उंगलियों को और तेज तेज चूत में चलाने लगा और दूसरे हाथ से उनका एक दूध पकड़कर कसकर दबा दिया.

चाची की चुदाई की - बीएफ साउथ अफ्रीका

मीना ने एक बार मुझे देखा और मेरे लंड पर झुक कर गौर से उसकी महक को महसूस करने लगी.कसम से दोस्तो, चुत में उंगली लेते ही वो जो उछली न … मेरी आधी उंगली चुत में घुस गई.

थोड़ी देर बाद दोनों की चूत से पानी निकल गया।अब बुआ को मैंने लंड के ऊपर बैठने को बोला और मैं खुद बिस्तर पर लेट गया. बीएफ साउथ अफ्रीका अब आगे देसी सेक्सी गर्ल्स स्टोरी:ये सेक्स कहानी अभी अंजू से शुरू हुई थी और मंजू से होकर अंजू तक फिर आ गई थी.

आज मैं आपको मेरे भाई से चुदाई बहन की रसीली सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ.

बीएफ साउथ अफ्रीका?

किस के दौरान मैंने महसूस किया कि मेरी दोनों टांगें अपने आप फ़ैल गयी थीं और मोहित का लंड अपने अन्दर लेने की कोशिश करने लगी थीं. साफिया ने अपने पैर खोल दिए जैसे कहना चाह रही हो कि अब इस चूत के मालिक आप हो मेरे प्यारे मामा!फिरोज ने उसे किस करते करते उसके कान को अपने मुंह में ले लिया. इस पर वो एक बार फिर से हिचकिचाईं और बोलीं- इसे यहीं तक रहने दो … आगे मत बढ़ाओ … ये ग़लत है.

उसी समय चचा ने अपना पूरा लंड गांड में डाला और हचक कर गांड मारने लगे. फिर साफिया कहने लगी- झटके मारो मेरे प्यारे मामा! मेरे राजा!फिरोज भी कहने लगा- हां मेरी जान ले चुद अपनी अम्मी के भाई से!वो धीरे-धीरे धक्कमपेल करने लगा। फिर उसको तो मस्ती छाने लगी. मैंने कहा- हां पटा लो … मैं तो एकदम गाय जैसा हूँ … जल्दी से पट जाऊंगा.

जब मेरी पटाका माल पिंकू नहाने को जाती, तब मैं उसे छुपकर देखने की कोशिश करता. वो अपने मम्मों को दबाती हुई आवाजें निकाल रही हैं ‘आह … उह …’मम्मी की चुत पर काफी बाल थे. उसी बीच लड़के ने उसे अपनी छाती पर ले लिया और उनकी चूत में लंड पेलने लगा.

देसी सेक्सी गर्ल्स स्टोरी के दूसरे भागनंगी लड़की की कुंवारी चूत में उंगलीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं और मंजू एक साथ एक दूसरे के जिस्म से खेलने लगे थे. फिर मैं अपने बाएं हाथ में पेग उठा कर पीते हुए उसकी जांघ पर अपना दाहिना हाथ फेरने लगा.

मैं- कोई बात नहीं भाभी, मुझे बहुत एक्सपीरिएंस है और मैंने बहुत सारी औरतों की प्यास बुझाई है.

मैं बोला- हां पिंकू, यह सब नॉर्मल बातें हैं।अब पिंकू कुछ ओपन हो गई थी.

ये सुनकर मैं एकदम से अवाक रह गया … मेरी समझ में ही नहीं आया कि उससे मैं क्या बोलूं. करीब दस दिनों के बाद एक दिन रात में दीपक मेरे कमरे में आ गया और कहने लगा- रानी मुझे नींद नहीं आ रही है … चलो कुछ बात करते हैं. खाना खाकर हम दोनों फ्री हुईं तो जीजू को लेकर दीदी बताने लगीं कि सुबह से जीजू ने उन्हें किस तरह से ताबड़तोड़ चोदा था.

दूसरे ने कहा- जरा माल तो दिखाओ रानी … क्या क्या माल है तेरे पास!मेरी बहन इठला कर बोली- साले माल देख कर बेहोश हो जाओगे. दो दिनों में ही वो मेरे साथ काफी फ्रैंक हो गई थीं और मुझसे हंसी मज़ाक भी करने लग गई थीं. वो भी दो बार झड़ चुकी थी।फिर उन्होंने मुझे पास बुलाया, किस किया और कहा- बेटा, मुझे इससे जादा मज़ा कभी नहीं आया.

प्रिया- आंह चोद मुझे … आज मेरी बुर फाड़ दे … तू सच में मुझसे प्यार करता है … तो मैं हमेशा तुझसे ही चुदवाऊंगी … आह पेल दे साले अन्दर तक ठूंस लंड को मादरचोद.

दोनों मुझसे चुद चुकी थीं और दोनों को ही एक दूसरे के बारे में मालूम चल चुका था तो मैंने अगली बार अंजू और मंजू को एक साथ एक ही बिस्तर पर चोदा. जैसे तैसे मैंने उसकी बात मान ली, पर कहा- मेरे पास कोई कपड़े नहीं है. अब सफिया कहने लगी- फिरोज चोदो ना … अब बर्दाश्त नहीं होता!पर फिरोज उसे थोड़ा और तड़पाना चाहता था.

ऋतु ने अपने दोनों हाथ सनी की गर्दन में डाल दिए और उसकी आंखों में देखते हुए चुदने लगी. कुछ देर बाद राहुल उठा और बोला- ले रंडी, मेरे लंड को फिर से थोड़ा सा चूस, फिर मैं तेरी चुत चोदूंगा. ईई …’मैंने एक हाथ से उसकी कमर और दूसरे हाथ से उसके बाल पकड़े और फिर दनादन उसकी चूत पर लंड का प्रहार करना शुरू कर दिया.

तभी वे रोकते हुए बोले- ऐसा करो कि तुम पहनकर अपनी फोटो मुझे भेज दो।बाबूजी चक्कर में आ गये थे.

अब उसे फिरोज में सिर्फ और सिर्फ मर्द नजर आ रहा था जो उसकी चूत और जिस्म की आग को ठंडा करेगा. मैंने भी उन्हें अपने लंड के दीदार करवाए और उनकी चुचियों के दीदार किए.

बीएफ साउथ अफ्रीका उनके बड़े बड़े टाइट चुचे देख कर मैं पागल ही हो गया और भाभी के मदमस्त यौवन को देखता ही रह गया. मैं मुस्कुरा दिया और उसकी रस छोड़ती चुत की फांकों में लंड का सुपारा रगड़ता घिसता रहा मगर अन्दर नहीं पेला.

बीएफ साउथ अफ्रीका मां बोली- तू मीना के घर चला जा, वो अकेली है … और प्रेस में काम बहुत है. उसने जैसे ही सर उठा कर देखा, मैंने दोनों हाथों से गाल पकड़ कर उसके होंठों से अपने होंठ चिपका दिए.

क्षिति को मुकेश का फोन आया कि वो लेट आएगा तो क्षिति बोली- मैं चलती हूं.

जानवर इंसान सेक्सी बीएफ

आठवें दिन भाभी मुझसे मिलीं, तब मैंने पूछा- उस दिन मजा आया?भाभी बोलीं- मजा तो बहुत आया लेकिन मेरी चुत में सात दिन तक दर्द था. मैं डरते हुए गया और बुआ से बोला- जी बुआ जी … क्या हुआ!उन्होंने पूछा- क्या हुआ का क्या मतलब है? खाना नहीं खाना है क्या … चलो बैठो खाना खा लो. ऊपर मेरा टॉप मेरी नाभि के ऊपर तक का था, जो मेरे मम्मों को ही छुपा पा रहा था.

आपका अंशु सिंह[emailprotected]मेरी बीवी की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:मेरी पत्नी की गैर मर्द के लंड से चुदाई- 2. साथ साथ में मैं चूत के दाने को उंगली से रगड़ रहा था जिससे मामी और उत्तेजित हो गयी थीं. उसने अपना फोन वाश बेसिन के ऊपर रखा हुआ था जो कि मेरे नीचे था इसलिए मैं उस लड़की को साफ-साफ देख पा रहा था.

इंडियन हॉट भाभी सेक्स कहानी मेरे ख़ास दोस्त की बीवी की गर्म चूत की चुदाई की है.

हैवी सेक्स की कहानी में पढ़ें कि छोटे लंड से अपनी चूत की सील तुड़वा लेने के बाद मैं बड़ा लंड अपनी फटी चूत में लेने के लिए कुलबुला रही थी. मैंने कहा- जीजा जी इतने दिन रहे … क्या आपने उनसे मजा नहीं लिया!वो बोलीं- अभी उनकी बात मत करो, लो दूध चूसो. उसने दोबारा से उसने लंड को चुत में रखा और फांकों में फंसा कर एक जोरदार धक्का लगा दिया.

मेरे इतना कहते ही चाची ने अपने गाउन का ऊपर का एक बटन खोल दिया और हाथ डालकर चूचों को मसलने लगीं. उसका गीलापन कुछ तो बाहर बह जाता है और कुछ उसकी चूत के अन्दर की मांसपेशियां वापस सोख लेती हैं. लेकिन यह हुआ कैसे?जब जवान डॉक्टर सविता भाभी के सेक्सी जिस्म का निरीक्षण करने लगा तो उसका लण्ड बेकाबू हो गया।तो क्या सविता भाभी ने डॉक्टर का मजा कराया या नहीं?ये जानने के लिए यह आवाज वाली वीडियो देखें.

मैं अब धीरे धीरे पूरा लंड बाहर निकालती, फिर पूरा लंड चुत के अन्दर पेल देती. मैं एक बार उन्हें फटाफट चोद चुका था पर मेरा मन तसल्ली से दीदी की चुदाई का था.

जब मैं वहां से निकलने वाला था, तभी अचानक से मौसम खराब होने लगा और बारिश होने लगी, जिससे मैं थोड़ी देर के लिए वहीं रुक गया. फिर तुम अभी भाई बहन की चुदाई वाली वीडियो देख रही थी ना!पिंकू बोली- तुम मेरे भाई हो, भाई बहन में यह नहीं हो सकता. अंतर्वासना के लेखकों में शायद सबको ऐसे सवाल का सामना करना पड़ता है जो कभी नर की तरफ से होता है तो कभी नारी की तरफ से!ये सवाल मेल में आते हैं.

कुछ देर बाद फिर से साफिया गर्म हो गई। वो फिर से अपने मामा का साथ देने लगी चुदाई में.

मैंने अपने घुटनों को उनकी गांड के थोड़े से नीचे रखकर उनके कमर की मालिश करना चालू कर दिया. मैं पहुंचा तो मैंने भाभी से पूछा कि भाभी आज घर पर कोई दिखाई नहीं दे रहा क्या बात है … कहां चले गए सारे लोग?भाभी बोलीं- आज सारे लोग रिश्तेदार के यहां गए हुए हैं. जब कभी शटल मेरे निप्पल से टकराती थी तो मुझे ऐसा लगता था जैसे अमित ने मेरे निप्पल को मींज दिया है.

फिर दादा दादी आ गए थे तो मुझे लगा कि रायता और ज्यादा न फ़ैल जाए इसलिए मैंने आपसे माफ़ी मांग ली थी. आकांक्षा लगभग 2 साल से अपनी चुत में उंगली कर रही थी लेकिन अभी भी उसकी चूत की फांकें ज्यादा खुली नहीं थीं.

जैसे ही मैंने मुंह खोला, उसने चुत को मेरे मुंह में लगा अपना पानी छोड़ने लगी जिससे मेरा मुंह भर गया।मैं सुमन का सारा माल पी गया।अब सुमन बेसुध होकर सो गई, उसका काम हो गया था।20 मिनट आराम करने के बाद सुमन उठ कर मेरे लन्ड को मुंह में ले कर चूसने लगी, मेरा लन्ड खड़ा किया।मैंने सुमन को अपनी जींस से कॉन्डम निकाल कर दिया. फिर हमने एक दूसरे के अंग को चाट कर साफ़ कर दिए और बिस्तर पर लेट कर बात करने लगे. देसी सेक्सी गर्ल्स स्टोरी के दूसरे भागनंगी लड़की की कुंवारी चूत में उंगलीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं और मंजू एक साथ एक दूसरे के जिस्म से खेलने लगे थे.

हिंदी में बीएफ सेक्सी फिल्म दिखाओ

दिव्या का रंग थोड़ा सांवला सा है लेकिन वो ऐसे सज धज कर रहती है, मानो खुद को स्वर्ग की अप्सरा मानती हो.

फिर मैंने उसे पकड़ कर देखने की कोशिश की तो पता चला कि वह पूरा अंदर समा चुका था।मैंने अपने हाथ उसकी पीठ पर कर लिये और उसकी पीठ से ले कर उसके नंगे चूतड़ तक सहलाने लगी।जब उसे लग गया कि मैं संभल चुकी थी और वह धक्के लगा सकता था तब उसने अपने घुटनों पर जोर देते खुद को संभाला और अपनी कमर पीछे खींची।योनि में वापस खालीपन पैदा हुआ और सांप जगह छोड़ता बाहर सरका. फिर मीना ने इंची टेप से मेरा बड़े अंडकोषों से चिपका लंड अपने मुलायम हाथों में लेकर सहलाया तो लंड अकड़ उठा. मैंने उससे कहा- मोनाली, क्यों ना मैं तुमको रंडी बना दूँ … क्या तुम मेरी रंडी बनोगी?मेरी बीवी को लगा कि मैं सेक्स में मजाक कर रहा हूं.

मैंने कजरी से पूछा- आज तुम्हारे मालिक तुम्हें चोदने वाले थे क्या?कजरी ने हां में सर हिलाया और फिर से मजे लेने लगी. मैंने उनसे पूछा कि आपको बड़ी देर लग गई?उन्होंने बताया कि शासन से आदेश आया था कि अपने स्कूल के स्टूडेंट्स के साथ पैदल यात्रियों को चावल बांटने जाना है … तो मैं वहां चली गई थी. सेक्सी सेक्सी वीडियो चोदने वालाउस वक्त मेरी मौसी की लड़की मेरे बगल में लेटी थी तो मेरा मन उसको चोदने को कर रहा था.

आधे घंटे तक मैंने दीदी के बालों की मसाज की थी उसकी वजह से दीदी को नींद भी आने लगी थी, वे बैठे-बैठे सो गई थी. सुहागरात का सेक्स करने में मोहिनी को दर्द हुआ मगर वह मुस्कराकर दर्द सह गई।मैंने थोड़ी देर धीरे धीरे चोदा, फिर गति बढ़ा दी.

यकीन मानिए यदि लड़की का मन आपके साथ सेक्स करने का है, तो वो लड़की बिना कहे आपको इतने मौके दिलवा देगी कि आप उसके साथ सम्भोग या ओरल सेक्स कर ही लोगे. वो तेज स्वर में आह आह कर रही थी तो तीसरे लौंडे ने मेरी बहन के मुँह में लंड पेल दिया. चैकअप के बाद उन्होंने बताया कि मैं जो सिरदर्द की दवाई खा रहा था, उसी की वजह से मेरे हॉर्मोन बदल रहे थे और मैं एक लड़की शीमेल बन रहा था.

‘हा हां अफ आ आह्ह्ह … ओह्ह्ह … उफ्फ उईई … मम्म्म …’मेरा लंड अन्दर जाता तो मेरी जांघ उसके उठे हुए बदन से टकरा कर मस्त शोर करती. तो कैसी लगी मेरी चूतिया कहानी? मैं बस कुछ भी लिख देती हूँ जो मेरे मन में आ जाता है. फिर एक दिन वो अपने कमरे में कपड़े बदल रही थी तो मैं चुपके से उसे देखने लगा.

प्रिया मेरे बालों को सहला रही थी और सपना अपने हाथ, मेरे पैरों पर रखकर उछल रही थी.

लंड के सुपारे को 4-5 बार चुत की फांकों में रगड़ा और चूत पर सैट करके धक्का दे मारा. जरा तू देख न!इतना कहते हुए चाची ने अपने गाउन का गला लगभग खोल दिया था और मुझे उनकी रसभरी चूचियां साफ़ नजर आने लगी थीं.

मोना भाभी मेरे पास कामुक भाव से आईं और अपनी चूत को मेरे मुँह पर रख दिया. वो पैरों को क्रॉस करके चूत को छुपाने लगी और अपनी बांहों से चूचियों को छुपा लिया. मामी- आ आ आह्ह … आईईइ आह्ह … आराम से … कुंवारी गांड है मेरी!मैं- अरे रानी अभी तो उंगली से घी आपकी गांड में भर रहा हूँ ताकि लौड़ा आराम से अन्दर चला जाए.

वो मेरे सीने से लग गई और मैं उसे अपने सीने से चिपका कर बेख़ौफ़ सो गया. खड़ा लंड देखकर बहेन चौंक गई और उसने तुरंत चादर वापस लंड पर डालते हुए कहा- मैंने थोड़ा देखने को कहा था … पूरा नहीं. बुर फाड़ चुदाई की कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी एक रिश्तेदार कुंवारी लड़की की चूत फाड़ दी अपने कुंवारे लंड से! हम दोनों सेक्स में अनाड़ी थे उस समय!दोस्तो, सेक्स कहानी के इस भाग में आपको दो युवाओं की पहली चुदाई का मजा लिख रहा हूँ.

बीएफ साउथ अफ्रीका उन्होंने अपने पति के बारे में भी लिखा था कि वो उनके हिसाब के नहीं हैं. कुछ ही झटकों के बाद शैंकी ने मुझे उठाया और दीवार पर मेरे हाथ रख दिए.

आजमगढ़ के बीएफ

जीजू ने मुझसे कहा- सनाया मैं बाहर चलकर तुझे एक इंजेक्शन लगवा दूँगा. फादर इन ला सेक्स के बाद मम्मी दादाजी के कमरे से निकल कर अपने रूम में सोने के लिए चली गईं. अब मम्मी के मुँह से गर्म आवाजें निकल रही थीं- आं हा हा … खा जा इस निगोड़ी चुत को … आह बड़ी खुजलाती है.

अब मेरी चुत अपनी मां की जैसी चुदी-पिटी चुत तो थी नहीं कि किसी का लंड भी आराम से खा जाए. करीब आधा घंटे बाद मेरा पानी भी निकलने वाला था तो मैं और जोर जोर से चुदाई करने लगा और उनकी चूत में ही झड़ गया. அண்ணி கொழுந்தன் செக்ஸ் வீடியோछत पर उन्होंने गेहूँ सुखाने के लिए डाला हुआ था, तो उसी को समेटने के लिए आंटी छत पर आई थीं.

तभी वे रोकते हुए बोले- ऐसा करो कि तुम पहनकर अपनी फोटो मुझे भेज दो।बाबूजी चक्कर में आ गये थे.

सपना की जवानी प्रदीप के हिसाब से थी ही नहीं … मगर इस बात को जानकर ताज्जुब हुआ कि उन दोनों की लव मैरिज थी. मीना– कहां से सीखा तूने ये सब?मैं- किताब पढ़ कर, दोस्तों से और मंजू के साथ करके सीखा.

अब आगे हॉट फॅमिली सेक्स कहानी:कोई 5 मिनट तक हम एक दूसरे की चुसाई करते रहे. इतना तो आप समझ ही गए होंगे कि इस उम्र में … वो भी बिना इंटरनेट के सेक्स के बारे में जानने की लड़के और लड़कियों में कितनी उत्सुकता होती है. थोड़ी ही देर में उसका हाथ मेरे लंड पर आ गया और उसने लंड मसलना शुरू कर दिया.

फिर मैंने मनोज से कहा- देखो, तुम मां से सुनील के बारे कुछ मत बोलना.

मैं भी अब अपने आप पर से नियंत्रण खो चुका था और और उनकी जवानी को किसी कुत्ते की तरह पेले जा रहा था. लेकिन मैं पढ़ाई में जरूर पीछे था, पर सेक्स के मामले में उनसे कहीं आगे था. उसका कॉल आया- मैं होटल के गेट के पास खड़ी हूँ, तुम कहां हो?मैंने देखा तो एक आंटी फोन पर बात कर रही थी.

सेक्सी वीडियो चूत लंड कीसपना बोली- हां इसलिए तो तुझे बुलाया है मेरी जान!मैंने देर न करते हुए सपना को किस करना चालू कर दिया. अब आगे स्वैप पोर्न कहानी:मैंने सोचा कि प्रिया पूरी रात चुदेगी तो वो तो पागल ही हो जाएगी.

80 साल की बुढ़िया की सेक्सी बीएफ

आजा मेरे बेटीचोद अब्बू मेरी बुर में अपना मूसल ठोक दे और मेरी बुर का भोसड़ा बना दे. आज सनी बहुत तेज धक्के लगा रहा था जिस कारण उसका पूरा जिस्म हिल रहा था. अब वह जोर शोर से अपनी चड्डी के अंदर हाथ डाल कर हिला रही थी और अपने दूध को मुंह से काटने की कोशिश कर रही थी।तभी अभिषेक ने फिर से बोला- क्या हुआ, मुझे भी बताओ.

आप लोगों ने मेरी पुरानी सेक्स कहानीअब्बू ने बजाई बाजी की चूतपढ़ी होगी, तो आपको मेरी बाजी के बारे में पता होगा. हम दोनों सो गए, उस दिन हमने सेक्स भी नहीं किया क्योंकि मैं चाहता था कि मोनाली कल पूरी गर्म रहे. मौसा जी रुकने वाले थे पर मासी ने कहा- रोहित तो है घर पे! कुछ रहा तो मैं उसके साथ दवाखाने चली जाऊँगी.

आप मुझे मेल करें ताकि मैं आपको अपने जीवन की यौन अनुभूतियां और भी सलीके से लिख सकूँ. मेरे लंड का हाल बुरा होने लगा था, वो पैंट फाड़ कर बाहर आने को बेताब था. ’वो- उम्म्म्म आईईई मेरी मांआ … आज में पहली बार ठंडी हुई … प्रतीक मैं फिर से आ रही हूँ … तुम्हें कितनी देर है.

जैसे ही लंड अन्दर बाहर होता लंड की गांठ चूत को पूरा खोलती, चूत के साथ ही मजे से ऋतु का मुँह भी खुल जाता. मीना- आशु बता न … मंजू के साथ क्या किया तूने!मैं कुछ नहीं बोला, फिर भी सोच लिया कि इसको कुछ इस तरह से बताया जाए कि मीना को लगे कि इस सबमें बहुत मज़ा आता है.

मुझे भी इतना ज्यादा मजा आ रहा था और लग रहा था कि यह पल कभी खत्म ही न हो.

मैं तो देखता ही रह गया यार क्या चुत थी … एक भी बाल नहीं और चुत एकदम गीली, चुतरस टपक रहा था. सेक्सी ऑंटी सेक्सी ऑंटीदो मिनट तक किस करने के बाद वो बोलीं- हम लोग अब घर चलें या यहीं सब कर लेंगे?मैंने उनके होंठों के पास वाले तिल को चूमते हुए कहा- आपकी मर्जी है, आप कहें तो यहीं कबड्डी कर लेते हैं. बीपी सेक्सी वीडियो देहातीमैंने उसकी गान्ड में थूक लगाया और लंड को छेद पर रख कर जोर का धक्का लगाया. फिर मोहिनी स्वाति को कमरे में ले जाकर उसकी भरपूर चुदाई करके इतने दिन की कसर पूरी करेगी.

इस समय भाभी मेरे सामने बैठी थीं, वो मुझे झुक झुक कर खाना परोस रही थीं.

आप यूं समझिये कि मैं उस जमाने के अमिताभ बच्चन जैसे लम्बे बाल बाल रखता था. कुछ देर बाद जीजू ने सन्नी को अलग किया और वो मेरे पेट पर दोनों तरफ टांगें डाल कर बैठ गए. नमस्कार दोस्तो, आज जो सेक्स कहानी मैं आप लोगों को बताने जा रही हूं, वो दो साल पहले की है और ये मेरी सच्ची सेक्स कहानी है.

मामी- हां तो चूत की आग है ही ऐसी … जितना अन्दर डालोगे, उतनी बढ़ती है … ऊउम्म ऊउम्म आह. मेरे मुँह से लंड चूसने से लार बह रही थी, जिसके कारण मेरे बूब्स पूरे गीले हो गए. उन्होंने एक हाथ से मेरे चूतड़ पकड़ कर मुझे उठाया और अपने लंड को मेरी गांड की छेद पर सैट कर दिया.

सेक्सी व्हिडिओ बीएफ हिंदी बीएफ

मामी झड़ने लगीं- आह्म्म आह्म्म आह्हम्म आह्हम्म और तेज धक्के मार … आंह मैं गयी … मैं गयी आह!उन्होंने मुझे बहुत कसकर पकड़ लिया और मेरे गले में काट लिया. अभिषेक ने जल्दी से उसका फोन उठाया और बोला- तुम यह क्या कर रही हो?तो नीतू बोली- तुम्हें इससे क्या मतलब? तुम अपना काम करो. मैंने जानबूझ कर ऐसा किया था ताकि कल से हम दोनों खुल्लम खुल्ला सेक्स कर सकें.

मैंने उसके और अपने सारे कपड़े उतार दिए और 69 की पोज़िशन में एक दूसरे को चूसना चाटना शुरू कर दिया.

मैंने पूछा- क्या मतलब?भाभी बोलीं- वो सब मैं बाद में बताती हूँ … अभी मुझे चोद दो प्लीज़.

मेरी उत्तेजना भी फिर से बढ़ चुकी थी और अपने मुँह की वो हालत दोबारा नहीं करानी थी, तो लेट गई और लंड खींच कर चूत पर टिका दिया. मैं चुत के दाने को अपने होंठों से पकड़ कर खींचते हुए चुत चटाई का मजा लेने लगा. ஆன்ட்டி எக்ஸ் வீடியோतो क्या देखा मैंने अपनी शादी के बाद वहाँ!लेखिका की पिछली कहानी:पिकनिक में सामूहिक चुदाईयह कहानी सुनें.

बुखार से मुझे बेहोशी हो रही थी पर उस हालत में ही मैं अपने कपड़े ढूंढ रही थी. आप सबने मेरे और मेरी मां के फिगर उम्र आदि के बारे में सब जान लिया है. फिर मैंने ही धीरे से मौका देख कर अपने लंड का मुँह थोड़ा सा बाहर को निकाल दिया.

[emailprotected]मेरी सेक्सी हिन्दी कहानियाँ … अगला भाग:जीजू और उनके दोस्त के साथ सैंडविच चुदाई- 2. हर धक्के के साथ भाभी की चीख निकल रही थी और मेरा लौड़ा सीधा उनकी बच्चेदानी से जाकर टकरा रहा था.

सनी को लग रहा था कि उसका लंड अन्दर जल रहा है मानो चूत ना होकर कोई गर्म भट्टी हो.

चिपका हुआ गाउन था तो आंटी के जिस्म का एक एक कटाव साफ़ नुमायां हो रहा था और मेरे लंड में आग सी लग रही थी. वह बिल्कुल पालतू जानवर की तरह व्यवहार करती एवं मेरी हर आज्ञा का पालन करती।हमारा घर शहर से बाहर की तरफ था. मैं- हां बस ऐसे ही रहना जानेमन … आज आपकी गांड में लौड़ा घुसा कर मैं धन्य हो जाऊंगा.

गुजराती झवाझवी अब उन्होंने मेरे लंड का टोपा मुँह में ले लिया और तुरंत ही बाहर कर दिया. ” मैंने अपनी उंगलियों को चूत से बाहर निकालते हुए कहा।उसका दिमाग उत्तेजना से भन्ना रहा था और वो उंगलियां निकालते वक्त कराह रही थी.

तो मैंने कहा- अगर तुम्हें अच्छा नहीं लगेगा तो हम नहीं करेंगे।नीतू ने कहा- ठीक है, जो करना है करो … लेकिन जल्दी करो. इससे भाभी थोड़ी सी चौंक गईं और बोलीं- अरे वाह, तुम्हें तो मुझसे भी ज्यादा जल्दी है. मम्मी मीठी आवाज में सिस्कारती हुई बोलीं- लीजिये चूसिए बाबूजी … आंह मेरी चूत आपकी भी है.

बीएफ हीरोइन की

चूंकि प्रिया अब मुझे मना करने लगी थी तो मैंने सपना को लिटाया और उसके ऊपर चढ़ गया. नारियल तेल की चिकनाई की वजह से उनका लंड आसानी से पच पच की आवाज़ करता हुए गांड में अन्दर बाहर घुस रहा था. मैंने सिप लेते हुए पूछा- वो कैसे नेहा?नेहा- मैंने उससे इस किस्से को सुनते हुए अपना इंटरेस्ट दिखाया, तो नशे में मेरी चूत में से धार बहने लगी.

कुछ मिनट बाद ही हम दोनों चरम पर आ गए और भलभला कर एक दूसरे के मुँह में ही झड़ गए. फिरोज धीरे-धीरे उसे कहता- साफिया मेरी जान, तुम्हारे होंठों में तो बहुत रस है … इसे पूरा पी लेने को मन कर रहा है!तो साफिया भी उसे कहने लगी- फिरोज मामा, मेरे जिस्म में हर जगह रस से भरा पड़ा है, तुम जितना रस पी सकते हो पी लो … सब तुम्हारा है.

लेकिन इससे उसकी पत्नी संतुष्ट नहीं थी।वह अक्सर उसको ताने देती रहती थी।संदीप अपनी पत्नी की चूत मारने की बजाय गांड ज्यादा मारता था इससे उसकी पत्नी परेशान रहती थी क्योंकि उसको चुदाई का पूरा मजा नहीं मिलता था।ऊपर से संदीप उसकी गांड मारता था तो उसको दर्द होता था।संदीप का लण्ड भी 6.

उसने ये कई बार किया और हर बार मेरे मुँह से सिसकारी से निकल जाती रही. फिर धीरे-धीरे वो नॉर्मल हो गई।मैंने मन में सोचा इससे अच्छा पिंकू को चोदने का मौका नहीं मिलेगा. वहां जाने पर उसने देखा कि फ्लैट पर एक नौकर था, जिसे विकास ने बाहर आउट हाउस में भेज दिया.

उसकी गांड पर मैंने दो चांटे मारे जिससे उसकी गोरी गांड लाल हो गयी और मेरी उंगलियों के निशान उसकी गांड पर छप गए. एक दो मिनट तक मैं उस पर ही पड़ा रहा और अपना लंड बाहर निकाल कर उसकी गांड के छेद को देखने लगा. इस तरह चुदाई करते करते करीब हम दोनों को 20 मिनट गुजर गए।मेरा भी पानी छोड़ने की कगार पर था, मैंने कहा- मेरा पानी निकलने वाला है मेरी जान!वह बोली- अंदर ही निकाल लो.

उसने पूछा- क्या तुम दोनों यहीं रहते हो?मैंने कहा- हां, हैदराबाद में रूम रेंट बहुत हाई है इसलिए दीपक यहां मेरे साथ रहता था.

बीएफ साउथ अफ्रीका: ’कुछ मिनट या सेकेंड तक लंड चूसने के बाद ही उसके मुँह से लार बहने लगी. दूसरी ओर भैया ने मेरी गांड पर लंड लगाया और एक ही धक्के में पूरा लौड़ा मेरी गांड में घुसा दिया.

अब्बू ने लंड पेलते हुए बोला- चुप रंडी छिनाल … तेरी मां का भोसड़ा मादरचोदी … आज तुमको फहीम भी पेलेगा … आह तुम्हारी मां का चोदूं … साली तुम बहुत बोलती हो … आज तुम रात भर चुदोगी. आप यूं समझिये कि मैं उस जमाने के अमिताभ बच्चन जैसे लम्बे बाल बाल रखता था. कुछ देर तक तो मैं उसकी जवानी को देखता रहा मगर जब वो खुद अपने हाथ से अपने दूध सहलाने लगी और चूत सहलाने लगी तो मैं कण्ट्रोल नहीं कर सका.

वो मेरी चुत चूसना छोड़ कर उठ गया और उसने अपने लंड जल्दी चूत पर रखकर थोड़ा दाब देते हुए अन्दर कर दिया.

मैं चौंक गया पर फिर देखा लो उन्होंने पैंटी निकाली ही नहीं थी जिसकी वजह से वो पूरी गीली हो गई थी।वो निकालने के लिए उन्होंने मुझसे कहा- ये गीली वाली निकाल दो और दूसरी पहना दो. मैं उनके मम्मों को दबाने लगा और कुछ ही पल बाद मैंने उनकी नाइटी को उतार दिया. मैंने भी मौका देखकर चौका मारा और अगले ही पल मैंने भाभी के कोमल और दूध जैसे सफेद दूध को अपने एक हाथ से मसल दिया.