सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,द्याती सेक्सी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गाना चलाओ: सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो, हिना उस लड़के के साथ चैट कर रही थी और वो लड़का हिना को लिख रहा था- मुझसे तो साली नगमा ने कहा है कि हिना की भी मार लो एक बार.

प्रियंका पंडित वायरल वीडियो सेक्सी

वो आंख बंद करके बोलने लगी- आह मादरचोद क्या कर दिया … भोसड़ी वाले आग लग गयी है माँ के लौड़े. चोदा चोदी सेक्सी हिंदी वीडियोमुझे मालूम था कि मेरी बीवी और सादिका की एक सहेली सुमन उसी कस्बे में रहती थी.

मैं भी अब तक तुम्हारे मस्त लंड को चूस चूस कर अपना पानी निकाल चुकी हूं. बुआ की चुदाई की सेक्सी वीडियोहम दोनों को ही दूसरे मर्द के साथ अच्छा लग रहा था और दोनों दोस्त एक दूसरे की पत्नियों को एक दूसरे के साथ बदलते हुए हमको मजा दे रहे थे.

मेरे मुंह से बहुत तेज़ सिसकारियां निकलने लगीं और मैं अपने हाथों से उनके मुंह को पकड़ कर अपनी गांड के अंदर घुसाने लगा और साथ ही सिसकारते हुए बोल रहा था- आह्ह … और अंदर … आह्ह … और अंदर तक डालो अंकल!वो भी जैसे मेरी गांड को खाने ही वाले थे.सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो: तभी नीतू हमें देखने आयी तो रूपाली ने मुझे छोड़ के नीतू को दबोच लिया और उसके साथ लेस्बियन सेक्स का मजा लूटने लगी।मौसी ने अपनी जेठानी को नंगी करके उसकी चूत चाट ली थी.

पर वो मानी नहीं, कहने लगीं- पापाजी, आप बेकार में परेशान न हो; मैं चली जाऊंगी.हाय उफ्फ मर गईई माउम्मी!मैंने लन्ड के टोपे को बिना हिलाये डुलाए अंदर ही रखा और उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर चूसने लगा.

सेक्सी मूवी फुल्ल हँड - सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो

ये कह कर मम्मी मेरी तरफ़ अपनी गोरी पीठ करके खड़ी हो गईं और मैंने ब्रा हाथ में ले ली.उसने कहा- भाभी आपने पांच लीटर दूध देने का वायदा किया था!मैंने कहा कि मैं दूध और पैसे देने में असमर्थ हूं.

उसने अपने दोनों कान पकड़े और सॉरी बोला और कहा- मैं दोबारा ट्राय करती हूं. सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो मां बोलीं- बेटा, मेरे ब्लाउज का तो हुक बंद ही नहीं हो रहा है, तू छोटी साइज का ब्लाउज ले आया है.

मैंने उसकी चूचियों पर अपने हाथ जमा दिए और अपनी गांड उठा कर उसकी चुदाई चालू कर दी.

सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो?

मैं भी जोश में आकर गपागप गपागप लंड पेलने लगा।अब मैंने उससे कहा- मैडम आपकी चूत को चोदने के बाद मुझे थाने तो नहीं जाना पड़ेगा?वो बोली- राज तुम डरो नहीं, वो लड़की मेरे घर में किराए पर रहती है. उसकी चौड़ी छाती देख कर मेरे दिल में हेनू हेनू होने लगा और चुत में चींटियां रेंगने लगी. मैंने भी दूसरी लड़की जोया की तरफ उंगली करके कहा कि और मैं तुमको चोदना चाहता हूं.

लेकिन मम्मी बोलीं- यह क्या कह रहे हो तुम … तुम्हें होश भी है कि तुम क्या कह रहे हो?पापा मेरी मम्मी को चुप कराते हुए बोले- अरे अपना बेटा है. शहज़ाद ने अपना लंड हाथ में लिया और उसको रुबिका की सील पैक चूत पर रगड़ते हुए एक जोर का झटका दे दिया. अब हम दोनों बाहर तो जा नहीं सकते थे, अगर कोई देख लेता तो क्या बोलता.

उन्होंने मम्मी की एक-एक करके कपड़े उतार डाले और चुत चाटना शुरू कर दिया. कमर में शायद मोच आ गई है।मेरे बदन से चुन्नी ऊपर वाले हिस्से से सरक कर नीचे हो गई थी. उसे भी मज़ा आ रहा था और हल्की सी सिसकारी भी निकल रही थी- सि…स्स्ह … आअ अहह!उसकी ये कामुक आवाजें मेरी उत्तेजना को और बढ़ा रही थीं.

[emailprotected]मॉम सन हॉट सेक्स स्टोरी का अगला भाग:विधवा देहाती मां की चूत चुदाई- 3. अब ऊईई आह हह ओह हह ऊईई करके कामिनी की चूत का झरना बहने लगा और मैं अपनी जीभ से चाटने लगा।मेरा लन्ड उसके गले तक चोदने लगा।वो लंड मुंह से निकाल कर बोलने लगी- सर, अब मेरी चूत में अपना लन्ड घुसा दो और मुझे जमकर चोदो.

मैं- पर भाभी!भाभी- अब मैं और कुछ नहीं सुनना चाहती … तू वही करेगा, जो मैं कह रही हूँ.

आज मेरे इस तरह से चाटे जाने से आयुषी वासना में कामदेव की रति बन गई थी.

उसकी गांड में मैंने थूक लगाया और लंड को घुसाने लगा, चूत के पानी से गीला लंड फच्च करके गांड के अन्दर चला गया. इस बात के अगले दिन सुबह:सुनिये जी, रात में अदिति का फोन फिर से आया था. मेरा मन खिन्न सा हो रहा था; इतनी उम्मीद से आया था कि बहूरानी को जी भर के प्यार करने को मिलेगा, उनकी चूत सवा साल बाद चोदने को मिलेगी.

अभय ने ममता के मुँह से इतनी खुली बात सुनी, तो वो भी खुल गया- ममता मैं तुझसे एक बात पूछूँ?ममता- हां बोलो. इस बीच मैं अपने काम में व्यस्त रहा।शहर के बाहरी हिस्से में ही मृणालिनी का घर था। इस बीच लोलिशा मुझे अक्सर फोन करती थी लेकिन मैं कोई जवाब नहीं देता था अपनी सास की वजह से।एक दिन उधर से गुज़रते हुए मैंने मृणालिनी को बाज़ार में देखा. उसने कॉल रिसीव किया और बोली- मेरी बहन सामने गेट पर सोई है, आप पीछे के दरवाजे से आ जाओ.

मैंने देर ना करते हुए उसकी चुत पर अपनी ज़ुबान लगा दी और चुत का पानी चाटने लगा.

उन्होंने मेरे होंठों को चूमना शुरू कर दिया और धीरे धीरे लंड अन्दर सरकाने लगे. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरी गांड कभी ऐसे चुदेगी और मैं इतनी देर तक अपनी गांड को चुदवा लूंगी. फिर वो चाची को सिगरेट देते हुए बोले कि ले शब्बो रंडी तू भी मजा ले ले.

कुछ देर बाद मेरे घर की डोर बेल बजी तो उस भाभी ने मुझसे कहा- ये वही होंगे … तू रुक, मैं जाकर दरवाजा खोलती हूं. अब आगे मेरी सेक्स चुदाई कहानी:इस कहानी को सेक्सी लड़की की आवाज में सुनकर मजा लीजिये. मैंने वो सारे ले लिए।मैंने उनसे पूछा- आपको मेरा साइज कैसे पता चला?इस पर उन्होंने मेरे बूब्स को घूरते हुए कहा- देख कर अंदाज़ लगा लिया.

तभी राजेश की पिचकारी चूत में इतनी तेजी छूटी कि जैसे किसी मशीन ने प्रेशर से चूत में धार छोड़ी हो.

इस तरह मौसी के सामने मैंने राज खोला और उन्होंने मुझे फिटकरी से चूत की सिकाई करने को कहा. मेरी जान … यहां कोई नहीं आता, तू टेंशन मत ले, अपने पास समय कम है और काम ज्यादा है!” मैंने कहा और अपना लंड निकाल कर उसकी चूत के खांचे में घिसने लगा और फिर धीरे से टोपा चूत में घुसेड़ दिया.

सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो वो बोले- साली कुतिया, नौटंकी मत कर मादरचोदी … मैं जानता हूँ कि तू छिनाल औरत है. मैंने उसके कंधों को दबाते हुए कहा- अरे यार, अगर यही करना था तो कम से कम दरवाज़ा तो बंद कर लिया होता.

सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो इसी तरह हम दोनों शाम तक एक दूसरे के साथ रहे और हम दोनों ने छह बार सम्भोग का सुख प्राप्त किया. लेकिन वो झड़ते टाइम इतनी जोर से चिल्लाई थीं कि आस पास के फ्लैटों में भी उनकी आवाज पहुंच गयी होगी- आह यस्स … आई एम कमिंग … ओह्ह ओह्ह आह उऊऊ हम्म्म्म!करीब पांच मिनट तक भाभीजी रुक रुक कर झड़ती रहीं.

कुल मिला कर बहूरानी की जवानी, उनके तन के जानलेवा उभार, गहराइयां, घाटियां और चोटियां किसी हर किसी के तन मन में हलचल मचाये हुए थीं.

बीएफ चाहिए था

मैंने राजा से प्रस्ताव रखा कि हम राज्य के किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार का नुक़सान नहीं करेंगे अगर आप अपनी तीनों बेटियों की शादी मुझसे करवा दें. अफ़रोज़- क्यों आपा?मैं- अरे यार, तू अपनी ज़िंदगी की पहली चुदाई अपनी ही बहन की कर रहा है और उसी बहन की, जिसकी चुत को तू जाने क़ब से चोदना चाहता था. हालांकि गांड मारना कोई आसान काम नहीं होता है मगर मेरी होने वाली बीवी ने मुझे भरपूर सहयोग दिया और अपनी गांड मरवा ली.

कुछ देर रुकने के बाद मामी हम लोगों से मिलकर जब जाने लगीं, तो मेरी मम्मी ने उन्हें रोका. उन्होंने अपने होंठों को मेरे होंठों से हटाया और उनके मुँह से ‘अह्ह्ह …’ निकल गयी, उनके पैरों की जकड़ ढीली हो गई. आजकल भारत में हमारे जैसे लोग बहुत हैं … लेकिन बहुत कम लोग अपनी फीलिंग बता पाते हैं.

वो दर्द से बिलबिला उठी और उसने मुझे इतनी जोर से जकड़ा कि उसके नाखून मेरी पीठ में घुस से गए.

तुम्म यहां क्या कर रही हो!ममता- नींद नहीं आ रही थी तो सोचा तुम अभी जाग रहे होगे, तो तुमसे थोड़ी देर बात कर लूं. दोस्तो, मैं आपको अपनी एक सच्ची देसी लड़का लड़की चोदा चोदी कहानी सुना रहा हूँ. अफ़रोज़- आपा, मैं बस अन्दर डालकर देखूँगा कि कैसा लगता है … मैं आपको चोदूंगा नहीं … प्लीज़ आपा!मैंने उस पर अहसान करते हुए कहा- तुम मेरे भाई हो इसलिए मैं तुम्हारी बात को मना नहीं कर सकती पर मेरी एक शर्त है.

कुछ पल बाद सोनिया भाभी नॉर्मल हो गईं और नीचे से अपनी गांड हिलाने लगीं. दोस्तो, मेरी इस हॉट लेडी सेक्सी कहानी के अगले भाग में आगे की घटना लिखूँगी. तीनों रानियों की सहमति लेकर दोपहर में ही प्रोग्राम तय कर दिया गया कि आज ही सुहागरात होगी.

ममता जोर से सिसकने लगी- आआह भैया … ये कैसी आग लगा दी तुमने … अब सहन नहीं होता भैया … आह. इस बात पर मैंने उसे साफ मना कर दिया क्योंकि सनी के लंड के बिना मैं जी ही नहीं सकती थी.

फिर मैंने भी देर न करते हुए उसके मुँह में अपने लंड का पानी छोड़ दिया. मैं बीच में कुछ बोल भी नहीं सकता था कि तुम लोग मजे करो, मुझे नहीं चाहिए. पार्टी में दारू के कारण मेरा नशा मुझ पर हावी था और ऊपर से भाभी को चुत में उंगली करते देख कर मैं बहुत गर्म हो गया था.

शन्नो बोली- राज, तुम चले जाओगे तो मेरी चूत को कौन चोदेगा?मैंने साहिल की तरफ देखकर कहा- मेरी शन्नो कुतिया … तेरे घर में तो दो दो लंड हैं.

चाची सर के बदन को सहलाते हुए बोलीं- बाप रे … आपने कितनी बुरी तरह चोदा है. बेडरूम में जाते ही मैंने आयुषी के रसीले और गुलाबी होंठों पर अपने होंठ लगा दिए. उस लड़के में भी जितना दम था, उसने अपनी पूरी ताकत से धक्के लगाने शुरू कर दिए थे.

अंकल अपनी उम्र का लिहाज ना करते हुए चोरी चोरी से मेरे दोनों दूध घूर कर देख रहे थे. मैंने छोटी सी मीना को गोदी में उठाया तो उसने किसी नट की तरह अपने हाथ मेरी गर्दन पर लपेट लिए.

फिर भी मैं कोशिश करूंगी कि इसको एक मस्त सेक्स कहानी का रूप देकर आपको पूरी बात ढंग से बता सकूं. मामला गर्म देखकर मैंने उसकी टीशर्ट और ब्रा ऊपर उठा दी और गोरे गोरे मोटे मोटे चूचे चूसने लगा. मेरी सेक्स चुदाई कहानी के पिछले भागटेलर मास्टर को चूत देकर काम करवायामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं ड्रेस बदल कर आई तो डॉक्टर रोहित ने मेरे सेक्सी लुक की तारीफ की.

हिंदी बीएफ साड़ी वाली भाभी

लेकिन दोस्तो … जब उन्होंने अपनी एक पिक भेजी, तो मैं उन्हें देख कर दंग रह गया.

उस दिन उनके अम्मी अब्बू किसी फंक्शन में अपने गांव गए हुए थे तो दोनों बहनें घर में अकेली ही थीं. उसने मुझे नीचे किया तो मैंने उसकी पैंट उतारी और अंडरवियर निकालते ही उसका लंड बिल्कुल सांप की तरह बाहर निकल आया. इसी बीच मेरा लंड धीरे-धीरे खड़ा होने लगा और वह भी उत्तेजित होने लगी.

इसके बाद मां ने मेरे लंड को अपने हाथों में ले लिया और मसलने लगीं जिससे मुझे सुख की अनभूति होने लगी. चाची- क्या देखते हो?मैंने उनके मम्मों की तरफ देखते हुए उन्हें बताने की कोशिश की. सेक्सी सेक्सी हिंदी सेक्सी सेक्सीमैं उसी पार्क में बैठ कर सिगरेट पीने लगा और भाभी के फोन का इंतजार करने लगा.

मेरी मम्मी की उम्र भी उस वक्त ख़ास ज्यादा नहीं थी, कम उम्र में शादी हो जाने के कारण वो सिर्फ 36 साल की ही थीं और उनका फिगर भी बहुत मेंटेन था. दस मिनट की ताबड़तोड़ चुदाई के बाद शन्नो का शरीर धीरे धीरे अकड़ने लगा और मेरा लंड उसकी चूत में फंसने लगा.

ये बात करीब एक साल पहले की है, जब मैं अपने घर के पास एक पार्क में वॉकिंग कर रहा था. जिंदगी में इंसान तो बहुत मिल जाते हैं मगर अच्छे इंसान बहुत कम मिलते हैं. मैंने अपने हाथों से मम्मी की दोनों चूचियों को पकड़ा और धीरे धीरे ब्रा के कप में डालने लगा.

यूं ही हाथ फिराते हुए मैं अपने हाथ मां की पैंटी के अन्दर ले गया उनकी गांड के छेद को टटोलते हुए उनकी गांड को उंगली से सहला दिया. जब भी बुआ मेरे लंड के छेद को चाटतीं, तो जैसे मेरे बदन में एक बिजली सी कौंध जाती. चुदाई का ये खेल दिन ब दिन बढ़ता जा रहा था और हम दोनों को पता नहीं चला कि कब साहिल को हम दोनों पर शक हो गया था.

इसीलिए चाची मेरे सामने अपने पल्लू को सम्भालने में ज्यादा ध्यान नहीं देती थीं.

वो मेरे लंड को देख कर बोलीं- ये नहीं झड़ा क्या?मैंने हंसते हुए भाभी को लेटा दिया और दोबारा से उनकी चुत चाटने लगा. उसकी बात को काटते हुए मैं बोला- मगर उसके बाद भी तुम मुझे अच्छी लगने लगी हो … तुममें कुछ और बात है.

फिर भाभी ने नीचे जाकर मेरा लौड़ा जो कि वियाग्रा की 3 गोलियों के असर से पिछले काफी समय से खड़ा था, उसे भी चूस चूस कर लाल कर दिया. अब अगर तुमने हमें चुदाई नहीं करने दी या कुछ भी हरकत की, तो हम सबको ये चुदाई की वीडियो दिखा देंगे. ऐसे लंड का बारबार अन्दर बाहर होना देखकर बहुत अच्छा लग रहा था और मज़ा भी आ रहा था.

जैसे सुहागरात में दूध देते हैं, वैसे ही वो एक गिलास में दूध भरकर मेरे लिए ले आई. कुछ नहीं बहू, तुझे जीन्स टॉप पहने हुए पहली बार देखा न तो तेरे हुस्न के जादू में खो गया था, सच में तू इतनी सुन्दर और कमसिन सी लग रही है जैसे किसी कॉलेज की सेकेण्ड इयर की स्टूडेंट हो!” मैंने उसके मम्मों को निहारते हुए कहा. भाभी हह ह हह करके हंसने लगीं- चलो दो बजे गए हैं, पहले खाना खा लो और दो घंटे आराम करना है.

सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो अब मैं आपको बता दूँ … मैं राजस्थान से लगे हरियाणा के एक शहर में रहता हूँ. उसने कहा- किसने कहा कि खरीद कर ही दिया जाता है?मैं उसकी तरफ देखने लगी.

पापा बीएफ

सुमन दीदी के जाने के बाद आपके बच्चे नहीं होने का ऑपरेशन भी करवा लेंगे. लेकिन हम दोनों को गले मिलने के लिए कोई जगह नहीं थी तो मैंने उसको अपने कमरे में ही आने के लिए बोला. कब से तेरी चूत चाटने को नहीं मिली … इस बार सोचा था कि सारे अरमान पूरे कर लूंगा पर … पर, चलो बेटा जाने दो; फिर कभी देखेंगे.

मुझे नहीं पता फ़लक उस इशारे को कितना समझ पाई लेकिन वह मेरे उस इशारे से खुश हो गई थी. एकदम से साढ़े चार इंच लंड कसी हुई चुत में घुसा तो दीदी की गांड फट गई और वो चिल्ला पड़ीं- आआहई मर गई मम्मी रे … आह मेरी फट गई … उउफ्फ निकाल ले साले. सेक्सी वीडियो एचडी 16 सालसादिका ने किंजल की चुदाई की सुनकर अपनी कमर फिर से चलाना शुरू कर दी वो फिर से गर्मा गई थी.

मैंने फ़ोन रखा ही था कि तुरंत सादिका के फोन पर मेरी बीवी का कॉल आया.

अब आगे Xxx मामी की चूत की कहानी:पिछले चार पांच दिनों से कई कई बार मामी जी की चुदाई कर चुका था, पर कभी भी इस तरह मामी जी की बड़ी बड़ी चूचियों की चुसाई नहीं की थी. मैंने और शमा ने तय कर लिया था कि अगली बार जब हम मिलेंगे, तो वो सब करेंगे … जो हम दोनों चाहते हैं.

‘आह सीईइ हाइ राहुल … जोर से चूसिये मेरे मम्मों को … अह्ह्ह सीईईई आह आह और ज़ोर से चुस्सो अहह. लगातार दस मिनट तक भाई ने बहन को चोदा बेहतरीन अंदाज में! उसके धक्कों की रफ़्तार अभी भी कम नहीं हुई थी. इन ग्यारह वर्षो में बिंदु ओर मैं कैसे तड़पती रही थीं ये साफ़ दिख रहा था.

बिना लिपस्टिक के बहू के लाल लाल रसीले होंठों पर एक दबी सी मुस्कान खेल रही थी जैसे वो किसी आने वाले या मिलने वाले आनंद की कल्पना करके अभी से ही रोमांचित हो रही हो.

यार उसके मम्मे, कोई साधारण मम्मे नहीं थे बल्कि मक्खन मलाई जैसे मुलायम, कमल के फूल से खिले हुए थे. कुछ ही मिनट में अभय ने अपने लंड की ढेर सारी गाढ़ी गाढ़ी मलाई अपनी बहन के मुँह में छोड़ दी, जिसे ममता पूरी की पूरी चाट गई. वो मुझे पीछे से चोदने लगा और मेरा मजा और बढ़ गया।बीस मिनट तक चुदने के बाद मैं छूटने वाली थी.

बागड़ी में सेक्सी दिखाओफिर अच्छी सी दो कप चाय बनाकर लाइए।अब धीरे धीरे उसका डर कुछ कम हुआ और वो अपनी मटकती गांड को लेकर रसोई में चली गई।तभी मेरी नजर उसकी बाथरूम में पड़ी वहां उसकी ब्रा पैन्टी टंगी हुई थी।मैं चुपके से उठकर गया और उसकी पैन्टी को सूंघने लगा. हैलो भाई लोगो और चुदक्कड़ भाभियो, मैं पंकज आपको आज अपनी माँ बेटे का सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ.

कोई बीएफ दिखाओ

इसलिए तुझे जितना उछलना है, उछल ले!शायद उसने शिलाजीत या कोई दवाई ली हुई थी और आज वो पहले से मेरी लेने के मूड में आया था. ” मैंने कहा और बहूरानी की कार्यकुशलता की मन ही मन तारीफ़ करता हुआ बैग्स संभाल कर चल दिया. एक दिन जब मैं नहा रहा था … तब चाची घर आ गईं और मम्मी से बातें करने लगीं.

उससे बात कैसे आगे बढ़ी और उसने मुझे चालाकी से अपने कमरे में कैसे बुलाया. फिर डॉगी स्टाइल में सेक्स किया; काफी पोजिशनों में चुदाई का मजा किया. ममता- लो मां ट्राई कर लो, साईज में कुछ फर्क हुआ … तो भैया से कह कर बदलवा दूंगी.

आज से पहले कभी ऐसा मौका नहीं मिला था मगर आज तो जीजा जी खुद से जन्नत दिखाने का बोल रहे थे, तो मेरे मन में हेनू हेनू होने लगा. और फिर भाभी जी तो थीं ही कमाल की अप्सरा … अगर उनका चेहरे और मासूमियत की तुलना करूं तो बॉलीवुड अभिनेत्री कियारा आडवाणी से काफी मिलती है. मैं अपनी मां रज्जी से बोला- रज्जी, अपने हाथों से अपनी टांगें पकड़ कर ऊपर ले लो.

लोग तो अपने मजे के अपनी पत्नियों को दूसरे लोगों के साथ शेयर करते हैं. मैं एक बात बोलूं चाची?चाची- क्या?मैं- चाची मुझे ऐसा लगता था कि आपके इनमें दूध होता है.

पापा फ़ौज़ में थे, जिस वजह से वो साल में 2 या 3 बार ही घर आ पाते थे.

दोस्तो, हिन्दी सैक्स कहानी पर आपका स्वागत है।मैंने अन्तर्वासना पर बहुत कहानी पढ़ी और सोचा कि लोग ज्यादातर अपने मन से बना कर कहानी डाल देते होंगे।लेकिन कहावत है जो चलता है उसे ही थकान का अनुभव होता है।मेरे साथ भी ऐसा कुछ हुआ तो मैंने सोचा कि मैं भी अपनी आपबीती सबको बताऊं. हिंदी बोलने सेक्सी वीडियोलाल होंठ, गोरा रंग, आंखों का काजल और नशीली नजरें देख कर मैं अपनी मादक मौसी पर फिदा हो गया था. इंडियन हिंदी व्हिडिओ सेक्सीएक दिन हम दोनों को कंपनी के काम से दो दिन के लिए हैदराबाद जाना पड़ा. अफ़रोज़- हां आपा … बल्कि मैं तो ये भी सोच रहा हूँ कि भगवान ने मुझे सिर्फ़ एक बहन क्यों दी.

पहले नेहा ने अपनी छोटी बहन को अपने चाचा चाची की चुदाई का आँखों देखा वर्णन किया.

मैं पूरी ताकत से उसके उठे हुए दोनों नितम्बों को दबा रहा था और दोनों हाथ के अंगूठों को अन्दर दबाता हुए गांड के छेद के पास तक ले जा रहा था. ”किसी को आपके घर भेज दूँ? आपका हमारे घर आना वर्जित है क्या? हा हा हा…”नहीं, ऐसी बात नहीं है. आई लव यू पापा …” बहूरानी बोली और अपनी उँगलियों से मेरे बालों में कंघी सी करने लगी.

लगभग पन्द्रह मिनट में उन लोगों ने मेरे दोनों स्तनों को पूरा निचोड़ लिया. दोस्तो, मैंने बहुत पहले एक सेक्स कहानी लिखी थीट्रेन में गांड मरवाई और टीटी से पैसे लिएसेक्स कहानी के बाद मैंने बहुत टाइम तक कुछ नहीं लिखा. दस दिनों के बाद उसका मैसेज आया, जिसमें लिखा हुआ था ‘कैसे हो?’मैंने जानबूझकर कोई जबाब नहीं दिया और मैं अनदेखा करने की कोशिश करने लगा.

सनी लियोन बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

तभी एक दिन चित्रा ने कहा- आपने मुझे दवा नहीं दी?सॉरी, मैं भूल गया था. उसने ये देखकर अपने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया और ऊपर से ही उसे सहलाने लगी. कभी मेरे निप्पल को मसल देते थे।उनके लंड में जोश आ तो आ रहा था मगर बराबर टिक नहीं रहा था।जब जब वो मुझसे लिपटते तो जोश रहता। दारू के नशे में वो चूर थे.

मैं पूरी ताकत से उसके उठे हुए दोनों नितम्बों को दबा रहा था और दोनों हाथ के अंगूठों को अन्दर दबाता हुए गांड के छेद के पास तक ले जा रहा था.

उसने अपनी चूत फैलाई और मुझे हुक्म दिया- साले कुत्ते, देखता ही रहेगा या चाटेगा भी इस चूत को.

साथ में उनकी चूचियों की घुंडी चुटकी में दबा कर हल्के दबाव से निचोड़ने लगा था. मैंने उसकी चूचियों को पकड़ लिया और मसलते हुए लंड चुत में अन्दर बाहर करने लगा. भाभी और भैया की सेक्सी वीडियोतब मैंने एक आईडिया निकाला कि इसको हॉट मूवीज दिखाई जाएं तो क्या पता काम बन जाये और ये चूत दे दे!!तब मैंने रागिनी एमएमएस-2 डाउनलोड कर ली और उसको अपने घर बुलाकर दिखाने लगा.

दीदी- ये क्या बोल रहे, तुमने तो सिर्फ दो-तीन फोटो लेने का ही कहा था और तुम यह सब क्या मुझे बोल रहे हो?रमेश- ऐसा कुछ भी नहीं है यार … तू मेरे दोस्त की बहन है और मैं तुम्हारे बारे में बुरा नहीं सोच सकता. कभी कभी तो मैं उसकी कमर में हाथ डाल देता हूँ, पर तब भी वह कुछ नहीं कहती है. फिर वो धीरे धीरे आगे पीछे हिलने लगे और मेरी गांड को लंड का मजा आने लगा.

मैं बोली- अफ़रोज़, मेरी कमर में थोड़ा दर्द हो रहा है … ज़रा बाम लगा दे. मैं जानबूझ कर सोने का नाटक करने लगी क्योंकि मैंने शहज़ाद का मूड तो बना दिया था लेकिन आज उसे मुझे नहीं चुदना था, आज तो रुबिका की सील टूटनी थी.

उस दिन उनके अम्मी अब्बू किसी फंक्शन में अपने गांव गए हुए थे तो दोनों बहनें घर में अकेली ही थीं.

और वो इस चुदाई का मज़ा ले रही थी- आह हह … ओ यस मम्मम्म्म … और चोदो मुझे … बस चोदते जाओ … आज से मैं तुम्हारी रंडी हूं. वो एक तरफ मेरी दीदी की चूचियों को भींचे हुए था और दूसरी तरफ दीदी की गांड में लंड रगड़ कर मजा ले रहा था. एक दिन की बात है, मैं अपनी छत पर खड़ा था तो सामने के मकान की छत पर एक लड़की दिखाई दी.

गाय वीडियो सेक्सी शीना- अकेले क्यों रहोगे? मैं जो हूं आप के साथ!यह बोलकर शीना मेरे गोद में आकर बैठ गयी और मुझे किस करने लगी. आयुषी मुझसे पूछने लगी- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- आज मैं तुम्हें स्वर्ग का सुख देना चाहता हूं.

ट्रेन चलते ही सबसे पहले मैंने अपना नागपुर जाने वाले टिकिट कैंसिल किया. इससे वो चिल्लाने लगी- आह … और तेज चोदो … और फ़ास्ट और जोर से!वो चरम पर आ गई थी और झड़ने लगी. वह बोला- आपा नफ़ीसा तो मेरी इन सब बातों का कोई बुरा नहीं मानती जबकि मैंने कभी ये सोचकर नहीं किया था.

चीन का बीएफ चीन का बीएफ

कुछ देर लंड चूसने के बाद जैसे ही उसका लंड खड़ा हुआ तो मैं उठ गई और उसको पानी की बोतल और तेल की शीशी देते हुए अन्दर जाने को बोली. जब मैं काफ़ी कोशिश के बाद भी मामी कीचुत का छेदनहीं ढूंढ पाया, तो मामी न मुझे बेड पर चित लेटने को कहा. और लता को भी क्या दिक्कत है, थोड़ी देर इनका मन बहला देती है इसके बदले उस रांड को आराम से सिर छुपाने को जगह मिल गयी है.

वो बोली- अब उस बुड्ढे से तो कुछ होता नहीं है … और मेरा बेटा अभी छोटा है. वह जैसे लंड चुत से बाहर निकालने को तैयार हुआ, मैं सोचने लगी कि अफ़रोज़ अब मेरी चुत में लंड के धक्का लगाना शुरू करेगा, लेकिन यह तो ठीक उल्टा कर रहा था.

अब मेरी दोनों चूचियां ब्लाउज से आज़ाद खुली हवा में तनी थीं लेकिन मैंने उन्हें छिपाया नहीं बल्कि अपना मुँह उसके मुँह के पास ले जाकर अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए.

वो बाथरूम में से लाल रंग की झीनी नाइटी पहन कर बगल के बेडरूम में चली गई थी. मॉम- सोच लो तुम अपने पापा मम्मी को क्या बोलोगे?डैड- वो तू सोच, अगर हिम्मत है तो पिक भेज … मैं पापा को बोल दूँगा कि इसका अफेयर चल रहा था और मुझसे ग़लती हो गयी. जल्दी से ससुराल भेज दे।फिर मैंने हौसला कर लिया और चुपचाप इस शादी के लिए हाँ कर दी।एक दिन मौसी आई और मुझे अकेली साइड में ले गई.

भाभी का दूध कहानी के पिछले भागसगी भाभी ने दूध पिलाकर चुत चुदवायीमें आपने जाना था कि मेरी भाभी के मम्मों में दूध भरा रहता था. इस बार मैंने उसे 69 में लिटाया और हम दोनों ने एक दूसरे के लंड चुत चूसे. उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह से बाहर निकालने में एक पल की भी देरी नहीं की.

अरे, तो कह दो उससे की ख़ुशी ख़ुशी चली जाय; आखिर उसके बड़े मामा की बेटी की शादी है एक तरह से बहिन ही हुई उसकी, उसे तो जाना ही चाहिए.

सुहागरात की सेक्सी बीएफ वीडियो: उसने लंड चूस कर साफ़ कर दिया।हम दोनों नशे में थे तो हमें नींद लग गई. लेखक की पिछली कहानी:शादी से पहले मंगेतर की चूत गांड चुदाई का मजाहैलो फेंड्स, मेरा नाम पुष्पेंद्र सिंह है, आज मैं आपको अपने जीवन की एक अनोखी सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूं.

वो मुंह खोल कर लौड़े को गले तक अन्दर ले गई और लंड को लॉलीपॉप समझकर चूसने लगी. मैंने उनके होंठों को छोड़ा और एक बार उनकी आंखों में देख कर उन्हें लंड चूसने का इशारा करते हुए उनके सर को नीचे को किया. मैंने मां से पूछा- आज मटन, क्या बात है मां!मां बोलीं- तू दिन भर इतनी मेहनत करता है तो थक जाता होगा न.

चाची भी खूब हंस हंस कर उनका जवाब देती।अब इतनी बच्ची तो मैं भी नहीं थी, मुझे लगने लगा के तोमर साब और चाची में कुछ न कुछ चल रहा है।पर अभी तक ये ज़ाहिर नहीं हुआ था मगर कब तक छुपता।एक दिन मैं ड्राइंग रूम में पोंछा लगा रही थी और चाची किचन में बर्तन धो रही थी कि अचानक ज़ोर से बर्तन गिरने की आवाज़ आई.

मगर मैंने इस बार उस दूसरी लड़की हुर्रेम से कहा- प्लीज तुम सिर्फ मेरा लंड चूसो, मैं तुम्हारे पूरे मजे लेना चाहता हूं. साथियो, ये मेरी पहली रियल ऑफिस गर्ल Xxx कहानी है, जिसे मैंने अन्तर्वासना के लिए पेश की है. मैं- बारहवीं कक्षा से अब तक तो तू और तेरा खूबसूरत बदन मुझे भी तो तड़पाये जा रहा था.